- UPSC Result 2022 : यूपीएससी रिजल्ट में छाए यूपी के लाल , प्रयागराज , मेरठ , गोरखपुर के युवाओं का जलवा | सच्चाईयाँ न्यूज़

शुक्रवार, 26 मई 2023

UPSC Result 2022 : यूपीएससी रिजल्ट में छाए यूपी के लाल , प्रयागराज , मेरठ , गोरखपुर के युवाओं का जलवा

UPSC Result 2022 : यूपीएससी 2022 में उत्तर प्रदेश के युवाओं का प्रदर्शन शानदार रहा है. प्रदेश के युवाओं ने अपनी मेधा के दम पर कामयाबी की नई इबारत लिखी है. मूल रूप से प्रयागराज स्मृति मिश्रा ने चौथी रैंक हासिल की है.वह बरेली में रहती हैं. इसके अलावा भी यूपी के कई युवाओं ने कामयाबी हासिल की है. इनमें से ही एक हैं अनुभव सिंह. वह यूपीएससी में चार बार असफल रहे. अनुभव बार बार रिजेक्ट होते रहे लेकिन प्रयास नहीं छोड़ा. उन्होंने इस बात को साकार किया कि कोई लक्ष्य बड़ा नहीं, हारा वही जो लड़ा नहीं. आखिरकार पांचवें प्रयास में वह यूपीएससी में सेलेक्ट हुए. अनुभव की यूपीएससी में 34वीं रैंक आई है. उनकी पत्नी पहले से ही आईएएस हैं. वह 2019 में सेलेक्ट हुई थीं. उनकी 22वीं रैंक थी. इस वक्त वह फिरोजाबाद में सीडीओ हैं.

पढ़ाई के अलावा बैडमिंटन खेलने और वर्ल्ड सिनेमा देखने के शौकीन लखनऊ के अनुभव सिंह नेशनल पॉल ग्रेजुएट कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर हैं. उन्होंने डीयू के शहीद भगत सिंह कॉलेज से पॉलिटिकल सांइस में बीए ऑनर्स किया है. इसके बाद जामिया से एमए किया.

मेरठ के शुभम कुमार की 41वीं रैंक

मेरठ के शुभम कुमार ने यूपीएससी 2022 में 41वीं रैंक हासिल की है. 10वीं क्लास में उनके सिर्फ 58 फीसदी मार्क्स थे. हालांकि 12वीं में 67 फीसदी मार्क्स थे. इसके बावजूद उनके ऊपर औसत छात्र का ठप्पा लग गया था. उनके पिता किसान और मां गृहणी हैं. यूपीएससी की तैयारी के लिए घर से पूरा सपोर्ट मिला. हालांकि कोचिंग के लिए अधिक संसाधन नहीं थे. ऐसे में शुभम कुमार ने यूपीएससी की तैयारी ऑनलाइन स्टडी मैटेरियल से शुरू की. उन्हें लखनऊ के एक संस्कृत संस्थान में यूपीएससी की फ्री कोचिंग के बारे में पता चलता. इसके बाद वह मेरठ से लखनऊ आ गए. शुभम फिलहाल एक्ससाइज ऐंड कस्टम विभाग में काम करते हैं.

गोरखपुर से बने 4 आईएएस अफसर

गोरखपुर के युवाओं ने यूपीएससी में डंका बजाया है. जिले से कुल 6 कैंडिडेट्स का यूपीएससी में सेलेक्शन हुआ है. शहर की रूपल श्रीवास्तव ने 113वीं रैंक हासिल की है. इसके अलावा गौरव त्रिपाठी ने 226वीं, दृष्टि जायसवाल ने 255वीं और विवेक यादव ने 718वीं रैंक हासिल की है. 113वीं रैंक हासिल करने वाली रूपल श्रीवास्तव ने यह सफलता तीसरे प्रयास में पाई है. उनके पिता डॉ. अभय कुमार श्रीवास्तव जालौन में सीडीओ के पद पर कार्यरत हैं और मां डीएवीपीजी कॉलेज में एसोसिएट प्रोफेसर हैं.

एक टिप्पणी भेजें

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search