- ब्रिटेन में मिला कोविड का नया वेरिएंट, तेजी से फैल रहा वायरस, सर्दियों में मचाएगा 'आफत'! | सच्चाईयाँ न्यूज़

सोमवार, 7 अगस्त 2023

ब्रिटेन में मिला कोविड का नया वेरिएंट, तेजी से फैल रहा वायरस, सर्दियों में मचाएगा 'आफत'!

ब्रिटेन में मिला कोविड का नया वेरिएंट, तेजी से फैल रहा वायरस, सर्दियों में मचाएगा 'आफत'!


दुनिया में कोरोना का कहर भले ही खत्म हो गया है, मगर आने वाली सर्दियों में ब्रिटेन पर आफत आने वाली है. ब्रिटेन में इन दिनों कोरोनावायरस का नया वेरिएंट EG.5.1 फैल रहा है, जिसे एरीस का नाम दिया गया है. वायरस का ये वेरिएंट तेजी से ब्रिटेन में फैल रहा है. इस वेरिएंट की वजह से ब्रिटेन के हेल्थ ऑफिसर्स चौकन्ने हो गए हैं. नया वेरिएंट ओमिक्रॉन का ही हिस्सा है. ब्रिटेन में इस वायरस के बारे में पिछले महीने जानकारी मिली है. ऐसे में एक बार फिर से ब्रिटेन के लोग कोविड से खौफ खाना शुरू हो गए हैं. यूके हेल्थ सिक्योरिटी एजेंसी (UKHSA) ने कहा कि कोरोनावायरस के सात में एक मामले एरीस वेरिएंट से जुड़े हुए हैं. लेटेस्ट डाटा के मुताबिक, कोविड के कुल मामलों में से 14.6 फीसदी एरीस वेरिएंट से जुड़े हुए हैं. UKHSA का कहना है कि पिछली रिपोर्ट से तुलना पर पता चलता है कि कोविड-19 के केस इस हफ्ते लगातार बढ़ रहे हैं. रेस्पिरेटरी डेटामार्ट सिस्टम के माध्यम से रिपोर्ट किए गए 4,396 श्वसन नमूनों में से 5.4% की पहचान कोविड के तौर पर हुई है. पिछली रिपोर्ट में 4,403 नमूनों में से 3.7% कोविड से जुड़े थे. ब्रिटेन पर भारी होगा पतझड़ का मौसम UKHSA ने बताया कि वायरस पर निगरानी के दौरान EG.5.1 वेरिएंट के बारे में पहली जानकारी 3 जुलाई 2023 को लगी. अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की स्कैनिंग की जा रही थी, तब जाकर ये वेरिएंट सामने आया. कोविड के बढ़ते केस के बीच एक्सपर्ट्स का कहना है कि ब्रिटेन के लिए पतझड़ भारी होने वाला है. इस दौरान कोविड के मामले बढ़ सकते हैं. ब्रिटेन में पहले भी पतझड़ से लेकर सर्दियों के मौसम तक कोविड के बढ़ते हुए केस रिपोर्ट किए गए हैं. यही वजह है कि एक बार फिर से ये डर सता रहा है. नए कोविड लहर की ओर बढ़ रहा ब्रिटेन यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन में ऑपरेशन रिसर्च की प्रोफेसर क्रिस्टीना पेजेल ने कहा कि ऐसा लगता है कि ब्रिटेन नए कोविड लहर की ओर बढ़ रहा है. पतझड़ का मौसम आ रहा है और लोग काम और स्कूल पर लौट रहे हैं. ऐसे में कोविड का खतरा बढ़ रहा है. उन्होंने कहा कि हम सितंबर में कोविड के मामले बढ़ते हुए देख सकते हैं.पेजेल ने राष्ट्रव्यापी इंफेक्शन सर्वे को दोबारा लाने की बात दोहराई. उन्होंने कहा कि मुझे सबसे ज्यादा चिंता इस बात की सता रही है कि पिछले साल सर्दियों में एनएचएस संकट देखने को मिला, ये एक बार फिर से सर्दियों में देखने को मिल सकता है. हम लोग रास्ते को जाने के बिना बस आगे बढ़े जा रहे हैं.

एक टिप्पणी भेजें

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search