- बब्बर खालसा के आतंकी समेत पांच गिरफ्तार, व्यापारियों से लूट की बना रहे थे योजना | सच्चाईयाँ न्यूज़

शुक्रवार, 4 अगस्त 2023

बब्बर खालसा के आतंकी समेत पांच गिरफ्तार, व्यापारियों से लूट की बना रहे थे योजना

बब्बर खालसा के आतंकी समेत पांच गिरफ्तार, व्यापारियों से लूट की बना रहे थे योजना


लुधियाना और मोहाली के व्यापारियों से लूट की योजना बना रहे बब्बर खालसा के आतंकी कुलवंत सिंह समेत गिरोह के पांच सदस्यों को पुलिस ने दो अवैध पिस्तौल और आठ कारतूस सहित गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान नरिंदर सिंह उर्फ निंदी, कुलवंत सिंह उर्फ गुड्डू दोनों निवासी रोपड़, अमरिंदर सिंह उर्फ कैप्टन निवासी चंडीगढ़, लविश कुमार उर्फ लवी निवासी लुधियाना और परमप्रताप सिंह निवासी फाजिल्का के रूप में हुई है। वहीं, एक आरोपी यादविंदर सिंह निवासी करनाल की गिरफ्तारी बाकी है। पुलिस ने मामला दर्ज कर पूछताछ शुरू कर दी है। मामले में कई बड़े खुलासे होने की उम्मीद है। एसएसपी संदीप गर्ग ने बताया कि पुलिस को 28 जुलाई को गुप्त सूचना मिली थी कि नरिंदर सिंह उर्फ निंदी ने अवैध पिस्तौल रखी है और किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में है। इस पर तुरंत असलहा एक्ट के तहत फेज-1 थाने में मामला दर्ज किया गया। कार्रवाई करते हुए आरोपी नरिंदर सिंह को पिस्तौल समेत काबू किया गया। पूछताछ में बात सामने आई कि आरोपी ने यह पिस्तौल उत्तर प्रदेश के मुसेर शहर से 10 हजार रुपये में खरीदी थी। आरोपी कुलवंत सिंह के बब्बर खालसा आतंकी संगठन से संबंध मुकदमे में आगामी कार्रवाई करते हुए फेज-1 थाना एसएचओ रजनीश सिंह ने आरोपी नरिंदर सिंह से पूछताछ की। इसमें उसने कबूल किया कि उसने दूसरी पिस्तौल उसके गांव के ही कुलवंत सिंह से ली थी। मुकदमे में नामजद कर आरोपी को काबू किया। उसके कब्जे से एक देसी पिस्तौल समेत छह कारतूस बरामद हुए। आरोपी से पूछताछ में यह भी सामने आया कि उसके तार आतंकी संगठन बब्बर खालसा से जुड़े हैं। व्यापारियों से लूट की थी योजना, कर रहे थे रेकी आरोपी कुलवंत सिंह ने पूछताछ के दौरान कबूल किया कि उसने यह पिस्तौल अमरिंदर सिंह उर्फ कैप्टन से ली है। उसने यह भी बताया कि उसने अमरिंदर सिंह उर्फ कैप्टन, लवीश कुमार उर्फ लवी और नरिंदर सिंह उर्फ निंदी के साथ मिलकर लुधियाना और मोहाली के बड़े व्यापारी व्यापारियों से लूट करनी थी। इसके लिए लवीश कुमार और नरिंदर सिंह रेकी भी कर रहे थे। पूछताछ के आधार पर अमरिंदर सिंह उर्फ कैप्टन और लवीश कुमार को नामजद करके मुकदमा दर्ज करके गिरफ्तार किया गया। अमरिंदर सिंह को गिरफ्तार करते समय उसके सहयोगी आरोपी परम प्रताप सिंह ने पुलिस से अमरिंदर सिंह उर्फ कैप्टन को गिरफ्तार करते समय भगाने की कोशिश की थी। उसे भी मौके से नामजद कर मुकदमे में गिरफ्तार किया गया। इंदौर से लाए दो पिस्तौल और नौ कारसूस पूछताछ में अमरिंदर सिंह उर्फ कैप्टन ने कबूल किया कि वह इंदौर से 2021 में दो पिस्तौल और नौ कारतूस 55 हजार रुपये में खरीद कर लाया था। इनमें से एक पिस्तौल और दो कारतूस कुलवंत सिंह को दिए थे। वहीं, एक पिस्तौल और सात कारतूस यादविंदर सिंह को दिए थे। यादवेंद्र सिंह को नामजद किया गया है, उसकी गिरफ्तारी अभी बाकी है।

एक टिप्पणी भेजें

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search