- 22 जनवरी को हुआ छुट्टी का ऐलान, भगवान राम मंदिंर प्राण प्रतिष्ठा को लेकर लिया गया फैसला | सच्चाईयाँ न्यूज़

शनिवार, 6 जनवरी 2024

22 जनवरी को हुआ छुट्टी का ऐलान, भगवान राम मंदिंर प्राण प्रतिष्ठा को लेकर लिया गया फैसला

 

अयोध्या में भगवान राम की प्राण प्रतिष्ठा समारोह 22 जनवरी को आयोजित किया जा रहा है। देश भर में भगवान राम की प्राण प्रतिष्ठा समारोह 22 जनवरी को अवकाश की मांग की जा रही है, लेकिन इस बीच अब राजस्थान में अजमेर संभाग के ब्यावर नगर परिषद में 22 जनवरी को छुट्टी का ऐलान कर दिया गया है।

ब्यावर नगर परिषद आयुक्त ने अपनी शासकीय शक्तियों का प्रयोग करते हुए आयोध्या में 'श्रीराम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा' वाले दिन 22 जनवरी को परिषद में अवकाश घोषित किया है।

उल्लेखनीय है कि अनेक संस्थाओं, हिन्दूवादी संगठनों तथा सनातनी संस्कृति से जुड़े लोग सरकार से 22 जनवरी को सार्वजनिक अवकाश की निरन्तर मांग कर रहे हैं। इससे पहले छबड़ा विधायक और पूर्व मंत्री प्रताप सिंह सिंघवी ने अयोध्या में भगवान राम की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के अवसर पर 22 जनवरी को राजस्थान में सार्वजनिक अवकाश घोषित करने की मांग की थी।

बता दें कि अयोध्या में रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा 22 जनवरी को होगी। इसको लेकर काशी के विद्वान पूजा सामग्री के साथ अयोध्या पहुंच चुके हैं और 16 जनवरी से प्राण प्रतिष्ठा का अनुष्ठान भी शुरू हो जाएगा। वहीं, 18 जनवरी को दोपहर में रामलला गर्भगृह में विराजमान हो जाएंगे और रामलला की श्यामल मूर्ति की प्राण-प्रतिष्ठा पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा 22 जनवरी को की जाएगी।

इस बीच महाराष्ट्र के मंत्री मंगल प्रभात लोढ़ा ने सीएम एकनाथ शिंदे को पत्र लिखकर एक मांग की है. जानकारी के अनुसार, मंत्री मंगल प्रभात लोढ़ा ने सीएम पत्र लिखकर अनुरोध किया है कि अयोध्या राम मंदिर के अभिषेक के उपलक्ष्य में 22 जनवरी को राज्य में सार्वजनिक अवकाश घोषित किया जाना चाहिए. उनकी यह भी मांग है कि पूरे राज्य में 'दीपोत्सव' मनाने का निर्देश सभी को दिया जाए. इस मांग पर सोशल मीडिया यूजर लगातार प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

एक टिप्पणी भेजें

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search