- अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से पहले ट्रंप ने की पुतिन और शी जिनपिंग की तारीफ, कहा-"दोनों नेता शक्तिशाली और बुद्धिमान" | सच्चाईयाँ न्यूज़

रविवार, 28 जनवरी 2024

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से पहले ट्रंप ने की पुतिन और शी जिनपिंग की तारीफ, कहा-"दोनों नेता शक्तिशाली और बुद्धिमान"

 

पूर्व राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रंप ने अमेरिका के कट्टर दुश्मन रूस और चीन के राष्ट्रपति की तारीफ करके दुनिया भर में खलबली मचा दी है। ट्रंप ने ऐसे वक्त में पुतिन और जिनपिंग की सराहना की है, जब रूस-यूक्रेन युद्ध को लेकर अमेरिका और रूस में भारी तनाव चल रहा है।

साथ ही ताईवान के मुद्दे और आपसी प्रतिस्पर्धा के चलते चीन के साथ भी अमेरिका के रिश्ते तनावपूर्ण चल रहे हैं। ट्रंप ने यह बयान नवंबर 2024 में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव से पहले दिया है। इस बयान के कई मायने निकाले जा रहे हैं। ऐसा माना जा रहा है कि 2024 में यदि ट्रंप दोबारा राष्ट्रपति बनते हैं तो रूस-यूक्रेन युद्ध व चीन-ताईवान के तनाव को वह खत्म कर सकते हैं।

बता दें कि ट्रंप ने रूस और चीन के नेताओं को "बहुत बुद्धिमान और शक्तिशाली व्यक्ति" कहा। उन्होंने कहा कि दोनों ही नेता बुद्धिमान और शक्तिशाली हैं, जो अपने देश को सफल बनाना चाहते हैं। अमेरिका के प्रतिद्वंदियों की यह तारीफ बहुत कुछ इशारा कर रही है। ट्रंप ने एक तरीके से यह संकेत दे दिया है कि यदि वह सत्ता में आते हैं तो रूस और चीन के साथ संबंधों को फिर से बहला करेंगे। साथ ही रूस-यूक्रेन युद्ध, इजरायल-हमास युद्ध और चीन-ताइवान के तनाव को खत्म कर सकते हैं। ट्रंप पहले भी यह बयान देते रहे हैं कि यदि वह अमेरिका के राष्ट्रपति होते तो रूस-यूक्रेन युद्ध को खत्म करवा चुके होते।

ट्रंप के पुतिन और जिनपिंग से रहे हैं सामान्य संबंध

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रंप के रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से सामान्य और मित्रवत संबंध रहे हैं। ट्रंप ने राष्ट्रपति रहते रूस और चीन के साथ बेहतर समन्वय कायम किया था। ऐसा माना जा रहा है कि ट्रंप यदि दोबारा राष्ट्रपति बनते हैं तो इन देशों के साथ अमेरिका के संबंध फिर से सामान्य हो सकते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search