- शर्मनाक: पहले रेप और फिर दोस्तों संग किया गैंगरेप, जंगल में तीन दिनों तक बंधक भी बनाया | सच्चाईयाँ न्यूज़

गुरुवार, 3 अगस्त 2023

शर्मनाक: पहले रेप और फिर दोस्तों संग किया गैंगरेप, जंगल में तीन दिनों तक बंधक भी बनाया

शर्मनाक: पहले रेप और फिर दोस्तों संग किया गैंगरेप, जंगल में तीन दिनों तक बंधक भी बनाया
 फिर एक आदिवासी महिला के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है. आरोप है कि बदमाशों ने उसके पति और बच्चे की हत्या की धमकी देकर अगवा किया और जंगल में तीन दिनों तक बंधक बनाकर रखा.

इस दौरान तीन लोगों ने बारी बारी इस वारदात को अंजाम दिया है. मौका मिलने पर आरोपियों के चंगुल से निकल भागी पीड़िता ने पुलिस में शिकायत दी है. पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप और एससी एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

मामला इंदौर के किशनगंज थाना क्षेत्र का है. पीड़िता ने पुलिस को दिए शिकायत में बताया कि उसे घर में अकेली देखकर पड़ोस के खेतों में काम करने वाला युवक रंजीत उसके घर में घुस आता था. वह उसके बच्चों और पति की हत्या की धमकी देकर उसके साथ रेप करता था. अभी तीन दिन पहले आरोपी अपने साथी गुलाब के साथ उसके घर आया और बलपूर्वक उसे अगवा कर जंगल में बनी झोपड़ी में ले गया. जहां बारी-बारी से गुलाब और रंजीत ने उसके साथ दुष्कर्म को अंजाम दिया.

पीड़िता ने बताया कि यहीं पर इनका एक और साथी राम सिंह ने भी उसके साथ रेप किया. इस झोपड़ी में वह तीन दिन तक आरोपियों के चंगुल में रही. इसी बीच तीनों आरोपी किसी काम से कहीं चले गए तो वह मौका देखकर झोपड़ी से भाग निकली और अपने घर पहुंच कर सास ससुर को मामले की जानकारी दी. इसके बाद परिजनों के साथ थाने आकर उसने पुलिस को पूरा घटनाक्रम बताया.

पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी रंजीत, गुलाब और राम सिंह के खिलाफ गैंगरेप की धाराओं में केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है. पीड़िता ने बताया कि आरोपी काफी दबंग हैं. जब उसने अपने पति और सास-ससुर को आरोपियों का नाम बताते हुए पूरी वारदात का विवरण दिया तो ये तीनों डर गए. बल्कि उसे चुप रहने की हिदायत भी दी.

लेकिन पीड़िता ने अपने साथ हुई हरकत को लेकर आरोपियों को सबक सिखाने की ठान ली थी. इसलिए परिजनों को लेकर पुलिस के पास पहुंच गई. एडिशनल एसपी रूपेश द्विवेदी ने बताया कि इस मामले में केस दर्ज कर तीनों आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है. जल्द ही उन्हें अरेस्ट कर लिया जाएगा.

एक टिप्पणी भेजें

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search