- दम घोट रही मेरठ की हवा,सुबह स्मॉग की मोटी चादर छाई,384 पहुंचा AQI | सच्चाईयाँ न्यूज़

शनिवार, 4 नवंबर 2023

दम घोट रही मेरठ की हवा,सुबह स्मॉग की मोटी चादर छाई,384 पहुंचा AQI


वायु प्रदूषण लगातार बढ़ रहा है। शुक्रवार सुबह स्मॉग की मोटी चादर ने लोगों के लिए सांस लेना दूभर कर दिया। शनिवार सुबह से ही स्मॉग की मोटी चादर छा गई। पिछले चौबीस घंटे में एक्यूआई का स्तर भी 101 बढ़कर 384 तक पहुंचने पर मेरठ की हवा दम घोटने लगी।

गया। प्रदूषण का स्तर बढ़ने से सतर्क हुए एनसीआर कमीशन ने शुक्रवार को ग्रेप से जुड़े विभागों के साथ बैठक कर प्रदूषण रोकने के लिए जरूरी कदम उठाने को कहा।

इसके अलावा पर्यावरण अपर मुख्य सचिव ने भी क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी, आरटीओ, ट्रैफिक, एमडीए और नगर निगम के अधिकारियों के साथ बैठक कर एंटी स्मॉग गन का इस्तेमाल बढ़ाने और औद्योगिक इकाइयों की लगातार मॉनीटरिंग कर मानक के विपरीत चलने पर बंद कराने के निर्देश दिए।

शहर में सबसे ज्यादा प्रदूषित गंगानगर रहा। यहां का एक्यूआई 407 दर्ज किया गया। पल्लवपुरम में 377, दिल्ली रोड में 395, जयभीमनगर में 386 बेगमपुल में 380, बिजली बंबा चौराहा में 366, हापुड चौराहा में 377, साकेत चौराहा में 342, तेज गढ़ी चौराहे में 388, बागपत चौराहे में 341, केसरगंज में 331 एक्यूआई रहा।

आंखों में बढ़ने लगी जलन

हवा में पीएम 10 का स्तर 100 और पीएम 2.5 का स्तर 60 माइक्रोग्राम प्रतिघन मीटर से ज्यादा बढ़ते ही लोगों की मुश्किलें बढनी शुरू हो जाती हैं। हवा में ऑक्सीजन का लेवल कम हो जाता है। इससे सांस लेने में तकलीफ, आंखों में जलन बढ़ने लगती है।

एक्यूआई के साथ हवा की गुणवत्ता

एक्यूआई - हवा की गुणवत्ता

00-50 बेहतर

50-100 संतोषजनक

101- 200 सामान्य

201-300 खराब

301- 400 बहुत खराब

401- 500 गंभीर

500 से ऊपर बहुत खतरनाक

बना रहा सुबह स्मॉग का असर

पिछले एक सप्ताह से दिन का तापमान 29 से 31 डिग्री के आसपास चल रहा है। अभी आगामी तीन चार दिन तक भी मौसम ऐसे ही रहेगा और कोई ज्यादा परिवर्तन के आसार नहीं है। मौसम कार्यालय पर शुक्रवार को अधिकतम तापमान 29.8 डिग्री व न्यूनतम तापमान 15.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड़ किया गया। कृषि विवि के मौसम वैज्ञानिक डा यूपी शाही का कहना है कि दो तीन दिन तक मौसम ऐसे ही रहेगा सुबह के समय स्मॉग का असर बना रहेगा। सर्दी के बढ़ने के साथ मौसम में बदलाव आएगा।

अफसरों ने की बैठक, जरूरी कदम उठाने के निर्देश

ग्रेप स्टेज 3 लागू होने के बाद एनसीआर कमीशन और एयर क्वालिटी मैनेजमेंट सिस्टम (एक्यूएमएस) की शुक्रवार को अलग अलग ऑनलाइन बैठक हुई। बैठक में प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के साथ एमडीए, नगर निगम, पीडब्लूडी और आरटीओ व ट्रैफिक पुलिस के अधिकारी शामिल रहे। वायु गुणवत्ता में सुधार के निर्देश दिए गए। इसके अलावा लखनऊ से पर्यावरण अपर मुख्य सचिव ने ऑनलाइन बैठक ली।

इसमें क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी भुवन प्रकाश यादव, आरटीओ, ट्रैफिक, एमडीए और नगर निगम के अधिकारी शामिल रहे। अपर मुख्य सचिव ने एमडीए और नगर निगम को निर्देश दिए कि सड़कों को साफ रखा जाए। सडकों पर धूल न उड़े इसके लिए शहर में जाम से निपटने के लिए यातायात पुलिस को व्यवस्था करने को कहा। क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी भुवन प्रकाश यादव बताया कि बैठक में सभी विभागों को प्रदूषण की रोकथाम के लिए जिम्मेदारी दी गई है। जहां पर कमियां मिलेगी वहां पर कार्रवाई कर जुर्माना लगाया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search