- बच्चों की सेफ्टी के लिए Meta ने उठाया बड़ा कदम, Facebook और Instagram पर नहीं दिखेगा इस तरह का कंटेंट | सच्चाईयाँ न्यूज़

बुधवार, 10 जनवरी 2024

बच्चों की सेफ्टी के लिए Meta ने उठाया बड़ा कदम, Facebook और Instagram पर नहीं दिखेगा इस तरह का कंटेंट

 

Age Appropriate Content for kids:सोशल मीडिया की दिग्गज कंपनी मेटा ने एक ब्लॉगपोस्ट शेयर किया है जिसमें कंपनी ने बच्चों को प्लेटफार्म पर सेंसिटिव कंटेंट के एक्सपोज़र से बचाने के लिए नए टूल्स की जानकारी शेयर की है.

मेटा ने कहा कि कंपनी बच्चों को अब सेंसिटिव कंटेंट नहीं दिखाएगी, साथ ही कुछ खास तरह के टर्म्स को बच्चों के लिए रेस्ट्रिक्ट किया जाएगा. यदि कोई बच्चा इस तरह के कंटेंट को मेटा के प्लेटफॉर्म्स पर सर्च करता है तो कंपनी उसे कंटेंट दिखाने के बदले इस विषय में हेल्प लेने के लिए प्रेरित करेगी.

मेटा ने कहा की सभी बच्चों को कंपनी मोस्ट रेस्ट्रिक्टिव कंटेंट कंट्रोल सेटिंग में रखेगी. नए अकाउंट्स पर कंपनी ने ये सेटिंग लागू कर दी है जबकि पुराने अकाउंट्स को इसके दायरे में लाया जा रहा है. इसके तहत बच्चों को सुसाइड, सेल्फ हार्म, ईटिंग डिसऑर्डर समेत दूसरे सेंसिटिव कंटेंट से दू रखा जाएगा और उन्हें Explore और रील्स में इस तरह का कोई भी कंटेंट नहीं दिखेगा. मेटा ने कहा कि ये अपडेट आने वाले हफ्ते से लागू हो जाएंगे और यूजर्स को उनकी उम्र के हिसाब से कंटेंट दिखाए देगा.

बता दें, मेटा यूरोप और US में पहले से सरकार का दबाव झेल रही है. सरकार का कहना है कि मेटा के ऐप्स लोगों को अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए अलग-अलग तरह का कंटेंट दिखाते हैं और इसके दुष्प्रभाव के बारे में जानकारी नहीं देते. EU का कहना है कि मेटा के ऐप्स से बच्चों के मेन्टल हेल्थ पर गलत असर पड़ रहा है. पिछले साल अक्टूबर में कैलिफोर्निया और न्यूयॉर्क सहित 33 अमेरिकी राज्यों के अटॉर्नी जनरल ने कंपनी पर मुकदमा दायर किया और कहा कि उसने अपने प्लेटफार्मों के खतरों के बारे में जनता को बार-बार गुमराह किया है. लगातार मेटा अलग-अलग देशों में सरकार से कंटेंट को लेकर दबाव झेल रही है.

बच्चों को प्राइवेसी सेटिंग अपडेट करने के लिए मेटा भेज रही नोटिफिकेशन

मेटा ने ब्लॉगपोस्ट में बताया कि ये सुनिश्चित करने में मदद करने के लिए कि बच्चे नियमित रूप से इंस्टाग्राम पर अपनी सुरक्षा और गोपनीयता सेटिंग्स की जाँच कर रहे हैं और उपलब्ध अधिक निजी सेटिंग्स से अवगत हैं, इसके लिए कंपनी नोटिफिकेशन भेज रही है जहां से यूजर्स एक टैप में अपनी सभी प्राइवेसी सेटिंग्स को एक्सेस कर सकते हैं.

कंपनी ने बताया कि यदि यूजर्स 'रेकमेंडेड सेटिंग्स' के ऑप्शन को टर्न ऑन करते हैं तो कंपनी सीधे ये प्रतिबंधित कर देगी कि कौन उनकी सामग्री को दोबारा पोस्ट कर सकता है, उन्हें टैग कर सकता है या उन्हें मेंशन कर सकता है, या उनकी सामग्री को रील्स रीमिक्स में शामिल कर सकता है. मेटा ने बताया कि कंपनी ये भी सुनिश्चित करेगी कि केवल उनके फॉलोअर्स ही उन्हें संदेश भेज सकें और आपत्तिजनक टिप्पणियों को वे हाइड कर सके.

एक टिप्पणी भेजें

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search