- UP School Closed: यूपी के इन जिलों में ठंड के चलते 12 वीं तक के स्‍कूल 3 दिन और बंद, DM ने दिया आदेश | सच्चाईयाँ न्यूज़

गुरुवार, 4 जनवरी 2024

UP School Closed: यूपी के इन जिलों में ठंड के चलते 12 वीं तक के स्‍कूल 3 दिन और बंद, DM ने दिया आदेश

UP Schools Closed: यूपी के कई जिलों में बारिश और शीतलहर के मद्देनजर छात्र-छात्राओं की सुरक्षा और स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए इंटरमीडिएट तक के सभी बोर्ड (यूपी बोर्ड, सीबीएसई, सीआईएससीई, मदरसा और संस्कृत बोर्ड) के स्कूल शनिवार (छह जनवरी) तक बंद कर दिए गए हैं।

प्रयागराज में जिला विद्यालय निरीक्षक पीएन सिंह ने बुधवार को यह आदेश जारी किया। वहीं गोरखपुर में डीएम कृष्णा करुणेश ने बताया कि ठंड में छात्रों के स्वास्थ्य हित के मद्देनजर जिले के 12 वीं तक के सभी स्कूलों में छह जनवरी तक पठन-पाठन बंद रहेगा। 


वहीं मेरठ में डीआईओएस राजेश कुमार ने कहा है कि यदि अवकाश में स्कूल खुले तो कार्रवाई की जाएगी। शीतलहर के चलते कक्षा आठ तक के सभी बोर्ड बच्चों की छुट्टियां होने के बाद भी कुछ स्कूलों में बुधवार को बच्चे स्कूल आते दिखाई दिए। वहीं इस संबंध में छात्र नेता विनीत चपराना ने भी डीएम को टवीट करते हुए शिकायत की। वहीं इस संबंध में डीआईओएस राजेश कुमार का कहना है कि यदि स्कूल खुले हुए हैं, तो उनकी जांच की जाएगी। कक्षा आठ तक के सभी बोर्ड के बच्चों का अवकाश है। छह जनवरी तक बच्चों की छुट्टी हैं। सात दिनों से बेहद घने कोहरे से जूझ रहे मेरठ में कड़ाके की सर्दी का शिकंजा और कस गया है। अत्यधिक सर्द दिन की स्थिति से गुजर रहे मेरठ में बुधवार को रात के तापमान भी लुढ़क गए। बीते दो दिन हल्की धूप से 16 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा अधिकतम तापमान एक बार फिर से 13.4 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। रात के तापमान भी 5.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ है। ऐसे में दिन-रात के तापमान सामान्य से क्रमश पांच और एक डिग्री सेल्सियस कम पहुंच गए हैं। धूप नहीं निकलने और कोहरा घना होने से सर्दी और बढ़ेगी। फिलहाल 48-72 घंटे तक सर्दी से किसी भी राहत के आसार नहीं हैं।


उधर लखनऊ में कड़ाके की सर्दी को देखते हुए डीएम ने स्कूलों में यूनिफार्म की बाध्यता खत्म कर दी है। बुधवार को जारी एक आदेश में डीएम सूर्यपाल गंगवार ने छह जनवरी तक कक्षा एक से आठ तक अवकाश, कक्षा नौ से 12 तक सुबह दस सेतीन बजे तक स्कूलों के संचालन के साथ ही सर्दीसे बचने के लिए छात्रों को कोई भी गर्म कपड़े पहकनकर स्कूल आने का आदेश जारी किया है।


कानपुर में ओलावृष्टि

बंगाल की खाड़ी व अरब सागर से आ रही नमी और पश्चिमी विक्षोभ के टकराव ने अचानक तूफानी हवाएं चला दीं। गरज चमक संग बारिश और ओलावृष्टि भी हुई। सीएसए ने 10 मिमी बारिश रिकॉर्ड की। इससे गलन भरी सर्दी अपने चरम पर पहुंच गई। मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले 24 घंटों में फिर बारिश हो सकती है। बुधवार तड़के तीन बजे अचानक बादल गरजने लगे। कुछ देर में हवाओं ने रफ्तार पकड़ ली। फिर गरज चमक संग बारिश शुरू हो गई। यह सिलसिला सुबह 11-12 बजे तक जारी रहा।


अचानक तीन सिस्टम टकराने से स्थितियां बारिश के अनुकूल हो गईं। इसने भारतीय मौसम विज्ञान विभाग को भी चौंका दिया। सुबह तीन से 830 बजे तक 2.4 मिमी बारिश हो चुकी थी। करीब 12 बजे तक 7.6 मिमी बारिश दर्ज हुई। कुल 10 मिमी बारिश ने मौसम का मिजाज बदल दिया। शहर के दक्षिणी क्षेत्र में ओलावृष्टि भी हुई। उत्तरी पुरा, बिठूर, बिल्हौर और शहर के ग्रामीण क्षेत्रों में भी हल्की ओलावृष्टि हुई।

एक टिप्पणी भेजें

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search