- यूपी में प्यार, बिहार में मर्डर, खौफनाक प्रेम कहानी का खुलासा, कांप जाएगी रूह! | सच्चाईयाँ न्यूज़

शनिवार, 10 फ़रवरी 2024

यूपी में प्यार, बिहार में मर्डर, खौफनाक प्रेम कहानी का खुलासा, कांप जाएगी रूह!

 उत्तर प्रदेश में प्रेमिका से प्यार और बिहार में कत्ल की खौफनाक कहानी की साजिश रचनेवाले तीन दरिंदों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. गोपालगंज के एसपी स्वर्ण प्रभात ने बीते चार फरवरी को हुए ब्लाइंड मर्डर केस का सनसनीखेज खुलासा करते हुए हत्या में शामिल तीन अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है.

इन अपराधियों के पास से हत्या में इस्तेमाल किया गया कट्टा, गोली, खोखा, मोबाइल और स्कॉर्पियो को जब्त किया गया है.

हत्या की वजह में प्रेम-प्रसंग की बात सामने आयी है. एसपी स्वर्ण प्रभात ने चर्चित हत्याकांड का खुलासा करते हुए कहा कि हत्या को पांच अपराधियों ने मिलकर अंजाम दिया था और इसमें शामिल तीन अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. वहीं, मृतका के फरार प्रेमी समेत दो अन्य अपराधियों की तलाश के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है.

4 फरवरी को पुलिस ने बरामद किया था शव

एसपी ने बताया कि मृत लड़की सोनी कुमारी यूपी के जौनपुर की रहनेवाली थी. जौनपुर के ही निवासी रमेश यादव उर्फ राज से प्रेम करती थी. लड़की अपने प्रेमी से शादी करने के लिए दबाव बना रही थी, लेकिन उसका प्रेमी कहीं और शादी करना चाहता था. लड़की को अपने रास्ते से हटाने के लिए प्रेमी ने साजिश रची और अपने भाई के साथ मिलकर जौनपुर से गोपालगंज में बुलाया और यहां तीन अन्य लड़कों के साथ मिलकर तीन फरवरी की रात में हत्या कर दी. गोली मारकर हत्या करने के बाद शव को महम्मदपुर थाना क्षेत्र के सलेहपुर गांव के पास सड़क किनारे गेहूं के खेत में फेंक दिया था, जिसे चार फरवरी की सुबह पुलिस ने बरामद किया था.

प्रेमी के भाई समेत तीन गिरफ्तार

पुलिस ने मानवीय सूचना के आधार पर टेक्निकल साक्ष्य को बरामद किया और लड़की की हत्या में शामिल तीन अपराधियों को गिरफ्तार किया. इनमें प्रेमी का भाई जौनपुर के खुटहन थाना क्षेत्र के बनुआडीह निवासी गुलशन कुमार यादव, गोपालगंज के महम्मदपुर थाना क्षेत्र के टेकनवास निवासी रामाशीष प्रसाद के पुत्र चंदन कुमार और पवन कुमार शामिल हैं. वहीं, फरार प्रेमी समेत अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है.

अपराधी तक पहुंचना आसान नहीं था

अपराधियों ने जिस तरह से चेहरे के पास सटाकर कट्टा से गोली मारकर लड़की का कत्ल किया था, उससे कातिल तक पहुंच पाना और मृतका की पहचान कर पाना पुलिस के लिए आसान नहीं था. लेकिन, कहते हैं न कानून के हाथ लंबे होते हैं और पुलिस से कोई बच नहीं पाता है. टेक्निकल सेल और एसआइटी की टीम ने कलाई घड़ी से हत्या की तफ्तीश शुरू की और कातिल अपराधियों की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया. लड़की की भी पहचान हो गयी और उसके परिजनों को सूचना देकर बुलाया गया है.

स्पीडी ट्रॉयल चलाकर दोषियों को दी जाएगी सजा

लड़की का शव बरामद करने के बाद पुलिस ने जांच की, तो उसके हाथ पर टैटू से सोनी लव राजू लिखा हुआ मिला. पुलिस को तब स्पष्ट हो गया कि मामला प्रेम-प्रसंग से जुड़ा हुआ है. पुलिस ने तफ्तीश को आगे बढ़ाया, तो स्थानीय युवक भी हत्या में संलिप्त पाये गये. महम्मदपुर के टेकनिवास के रहनेवाले युवकों की गिरफ्तारी के बाद पूछताछ की गयी, तो पता चला कि लड़की का प्रेमी और उसके भाई ने मिलकर धोखे से उसे बुलाया और गोली मारकर हत्या कर दी. एसपी ने कहा कि इस मामले में पुलिस के पास पर्याप्त साक्ष्य है और पुलिस स्पीडी ट्रॉयल चलाकर दोषियों को सजा दिलायेगी.

ब्लाइंड केस सॉल्व करने के लिए SIT को मिला पुरस्कार

एसपी ने कम समय में ब्लाइंड केस की गुत्थी सुलझाने के लिए एसआइटी के कार्यों की प्रशंसा की है साथ ही पूरी टीम को 10 हजार नकद देकर पुरस्कृत किया है. एसआइटी में सदर एसडीपीओ प्रांजल के अलावा सदर इंस्पेक्टर हरेंद्र प्रसाद, थानाध्यक्ष महम्मदपुर अमित कुमार साह, पुलिस अधिकारी मोहन कुमार निराला, साइबर थाने के कलश कुमार, सिपाही रवि शंकर, सुभाष कुमार, अमित कुंवर, धर्मेंद्र कुमार शामिल थे.

एक टिप्पणी भेजें

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search