- जमीनी विवाद में पिता-पुत्र काट ले आए युवक का प्राइवेट पार्ट | सच्चाईयाँ न्यूज़

बुधवार, 7 फ़रवरी 2024

जमीनी विवाद में पिता-पुत्र काट ले आए युवक का प्राइवेट पार्ट


 गोरखपुर: यूपी के गोरखपुर में एक अजीब घटनाक्रम सुनने के लिए मिला है. यहां एक पिता पुत्र ने पड़ोस में रहने वाले युवक का प्राइवेट पार्ट काट डाला. वारदात को अंजाम देने के उपरांत आरोपी पीड़ित का प्राइवेट पार्ट अपने साथ लेकर चल दिए.

युवक की चीख पुकार सुनकर घटनास्थल पर पहुंची उसकी पत्नी ने पुलिस और एंबुलेंस को जानकारी दी. इसके बाद उसे BRD हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत नाजुक भी बताई जा रही है. पुलिस ने इस केस में आरोपी पिता पुत्र को अरेस्ट कर अदालत में पेश किया है, जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजा जा चुका है.

पुलिस केस की कार्रवाई कर रही है. पुलिस के अनुसार यह वारदात गोरखपुर के गुलरिहा थाना इलाके का है. पीड़ित युवक रामधारी यहां जैनपुर गांव के टोला दयानगर में अपने परिवार के साथ रह रहा था. वह तकरीबन 10 वर्ष पहले अपनी गांव की जमीन बेचकर यहां रहने आया था. पीड़ित की पत्नी दुर्गावती ने पुलिस को दिए बयान में कहा है कि उसके पड़ोसी बुद्धू से अपने बेटे के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया है. दुर्गावती के अनुसार बुद्धू के साथ उसका जमीनी विवाद और भी ज्यादा बढ़ गया.

प्राइवेट पार्ट काटकर अपने साथ ले गए आरोपी: इतना ही इस विवाद में पहले भी उनके मध्य झड़प हो चुकी है. इसी दौरान मंगलवार की रात जब उसके पति खाना खाने के उपरांत टहलने के इरादे से खेतों की ओर गए तो अपराधी बुद्धू और उसके बेटे ने घेर लिया. इस बीच आरोपियों ने बलपूर्वक उसके पति को काबू करते हुए उनके प्राइवेट पार्ट काटकर ले गए. पीड़ित पत्नी ने कहा है कि वह पति की चीख सुनकर घटनास्थल पर पहुंची और अपने पति की हालत को देखकर तुरंत पुलिस और एंबुलेंस को फोन किया. इतने में गांव के काफी लोग घटनास्थल पर आ गए.

गैंगस्टर ने कराई थी पंचायत: बड़ी मुश्किल से उसने पति को हॉस्पिटल पंहुचा दिया था, जहां डॉक्टरों ने सघन निगरानी में उन्हें भर्ती कर लिया है. पुलिस ने कहा है कि पीड़ित युवक की हालत नाजुक है. पड़ोसियों के मुताबिक तकरीबन 10 वर्ष पहले रामधारी ने बुद्धू को 7 डिसमिल जमीन भी बेच दी थी. बुद्धू का इल्जाम है कि रामधारी ने पैसे तो पूरे 7 डिसमिल के लिए, लेकिन जमीन कम दी. यह केस कोर्ट में पहुंचा. आखिर में इलाके के एक गैंगस्टर ने दोनों पक्षों को बैठाकर पंचायत कराई और मामले को शांत कराने का प्रयास किया. वहीं जब बुद्धू ने इस पंचायत की बात को मानने से इंकार कर दिया तो उस गैंगस्टर ने जान से मारने की धमकी तक दे डाली.

एक टिप्पणी भेजें

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search